Contact Information

Theodore Lowe, Ap #867-859
Sit Rd, Azusa New York

We're Available 24/ 7. Call Now.

Saints of india | आइये जानते है इन बाबाओं के बारे में l

Truth about the Saints of India

सात लाख रूपये दीजिये तो राधे माँ ( जसबिंदर कौर) आपको गोद में बैठाकर आशीर्वाद देंगी और पन्द्रह लाख रूपये दीजिये तो आप उसधूर्त ठग राधे माँ को किसी फाइव स्टार होटल में ले जाकर डिनर के साथ आशीर्वाद ले सकते हैं !

तब भी अंधविश्वासी लोग उसे देवी ही मानते हैं l

saints of india

निर्मल बाबा है जो लाल चटनी और हरी चटनी में भगवान की कृपा दे रहा है ! रात दिन पूज रहा है। और अंधभक्त है वह फिर भी उन्हे भगवान समझते हैं

बाबा रामपाल के भक्त हैं जो कबीर को पूर्ण परब्रह्म परमात्मा मानते हैं ! ओर अपने नहाए हुए पानी को अपने भक्तों को पिला कर उन्हे कृतार्थ करता है।

ब्रह्मकुमारीमत वाले हैं तो एक हीरा व्यापारीदादा लेखराज के वचनों को सच्ची गीता बताते हैं और परमात्मा को बिन्दुरुप बताते हैं ! इन्होंने भगवद गीता भी फेल कर दी।

राधास्वामी वाले अपने गुरु को ही मालिक परमेश्वर भगवान ईश्वर मानते हैं।कि गुरु जी ही साक्षात ईश्वर का अवतार है ।

निरंकारी है जिनका उद्धार करने वाला बाबा ही कई करोड़ की गाड़ी में ,300 की स्पीड पर भयंकर दुर्घटना में मर गया औरों के तो पता नही , अपना मिलन परमात्मा से करवा लेता है।पर लोग बाबा की जय बोलने से नही थकते।

Indian Saintsआशु भाई गुरु जी, बापू आसाराम, दाती महाराज बाबा राम रहीम के भक्त तो और भी महान है सब पोल खुल जाने पर भी सड़को पर भक्त बनकर इनको ईश्वर मान रात दिन उसके गुण गाते है। और कहते हैं कि जेल में गुरुजी नहीं बल्कि इनकी छाया गई हुई है अंधभक्त समझते ही नहीं

कोई विदेशी इसका जिम्मेदार नहीं है जिसने अपनी दुकान ज्यादा सजायी वो ही उतना बड़ा परमेश्वर हो गया। बाबा लोगों को किसी भगवान पर विश्वास नहीं होता..बाबा जी अपनी Z+ सिक्योरिटी में बैठकर कहते हैं कि," जीवन-मरण ऊपर वाले के हाथ में है "अंधभक्त श्रद्धा से सुनते हैं, पर सोचते नहीं हैं....

बाबा जी हवाई जह़ाज में उड़ते हैं। सोने से लदे होते हैं । ये बाबा दौलत के ढेर पर बैठकर बोलते हैं कि,

"मोह-माया मिथ्या है, ये सब त्याग दो"

लेकिन उत्तराधिकारी अपने बेटे या परिवार के खास व्यक्ति को ही बनायेंगे..अंधभक्त श्रद्धा से सुनते हैं, पर सोचते नहीं हैं.

भक्तों को लगता है कि उनके सारे मसले बाबा जी हल करते हैं,लेकिन जब बाबा जी मसलों में फंसते हैं, तब बाबा जी बड़े वकीलों की मदद लेते हैं..अंधभक्त बाबा जी के लिये दुखी होते हैं, लेकिन सोचते नहीं हैं।

भक्त बीमार होते हैं तो डॉक्टर से दवा लेते हैं जब ठीक हो जाते हैं तो कहते हैं, "बाबा जी ने बचा लिया"पर जब बाबा जी बीमार होते हैं,तो बड़े डॉक्टरों से महंगे अस्पतालों में इलाज़ करवाते हैं.अंधभक्त उनके ठीक होने की दुआ करते हैं लेकिन सोचते नहीं हैं।

अंधभक्त अपने बाबा को भगवान समझते हैं। उनके चमत्कारों की सौ-सौ कहानियां सुनाते हैं

videoLinkYoutube

जब बाबा जी किसी अपराध में जेल जाते हैं, तब वे कोई चमत्कार नहीं दिखाते.. तब अंधभक्त बाबा के लिये लड़ते-मरते हैं, लेकिन वे कुछ सोचते नहीं हैं। इन्सान आंखों से अंधा हो तो कहते है उसकी बाकी ज्ञान इन्द्रियाँ ज़्यादा काम करने लगती हैं, लेकिन अंध भक्तों की कोई भी ज्ञान इंद्री काम नहीं करती


अतः जागृत बनें, तार्किक बनें और ईश्वर को अक्ल से पहचाने
तो कैसे लगे Indian Gurus !!

यदि सम्भव हो और सही लगे तो अपने 10 हितचिंतको को जरूर शेयर करें क्योंकि जनहित मे जारी नमस्का



SHARE:

Leave A Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

क्या इस बच्चे को मरने से बचाना सही था।

आज इन Zodiac Signs वाले लोगों की किस्मत में क्या लिखा है।