Contact Information

Theodore Lowe, Ap #867-859
Sit Rd, Azusa New York

We're Available 24/ 7. Call Now.

क्या होगा अगर Fevikwik आपकी आंख में चली जाये।

मुगलों ने हिंदुस्तान के सभी पुरातन वास्तविक नाम बदल के इस्लामिक नाम रख दिए थे।

Spy Stories में जासूस की रहस्मय मौत के बारे में जानेगे।

World War 1 के समय घटी एक बेहतरीन Spy Stories के बारे में जानेंगे।

आज हम प्रथम विश्व युद्ध में हुए एक अजीब घटना के बारे में बात करेगे। जिसे सुन आपको इस घटना पर विश्वास करना थोडा मुश्किल रहेगा। दोस्तों यह बात है। World War 1 अभी शुरू ही हुआ था।

world war 1

1914 में फ़्रांसिसी अधिकारी ने एक जर्मन जासूस को पकड़ा। उस जासूस का नाम "पीटर कोर्पन" था। फ्रांसीसियो ने यह बात को गुप्त रखा और ऐसा व्यवहार किया की कुछ हुआ ही नही और उसकी गिरफ़्तारी के दौरान उस जासूस की गतिविधियों को वेसे ही रखा जैसे उसे कुछ हुआ नही। फ़्रांसिसी अधिकारी जर्मनियो को पीटर कोर्पन बनकर गलत जानकारी देते रहे।

videoLinkYoutube

जब जर्मनी सरकार पीटर कोर्पन को रुपये भेजती तो अपने पास रख लेते। कुछ समय बाद उस इकठे किये रुपये से फ़्रांसिसी अधिकारिओ ने एक कार खरीदी और तभी उस जासूस को बाहर निकलने का मोका मिला और वो उनकी गिरफ्त से बाहर निकल गया। वो चाहता था की वो जल्द ही अपने देश चला जाये और दूसरी तरफ उस जासूस के रुपये से खरीदी कार को फ़्रांसिसी अधिकारी चला रहे थे।

Peter Korpan

अचानक के एक दुर्घटना घटी और उस कार के निचे आकर एक व्यक्ति की मोत हो गई। जब जाँच की तो पता चला की वो बही अधिकारी था। जो की फ़्रांसिसी गिरफ्त से भाग निकल था। पीटर कोर्पन का एक्सीडेंट उसी के रुपये से खरीदी कार से हुआ। अगर वो एक्सीडेंट न हुआ होता। तो कभी न पता लगता। की पीटर कोर्पन नाम के जासूस को फ़्रांसिसी अधिकारिओ ने कभी पकड़ा था।

तो दोस्तों कैसी लगी यह Story in Hindi में!!! 



SHARE:

अब हिंदी में Type करना हुआ और भी आसान-hindi keypad

एप्पल कंपनी के बारे में कुछ रोचक तथ्य।

Leave A Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *