Contact Information

Theodore Lowe, Ap #867-859
Sit Rd, Azusa New York

We're Available 24/ 7. Call Now.

Third Eye Meditation से जगाये अपने शरीर की अद्भुत शक्तियां।

Third Eye के बारे में आपने कभी तो जरूर सुना होगा। क्या आप इसे गहराई से जानते है। अगर नहीं, तो चलिए जानते है। माना जाता है की 3rd Eye हमारी दोनों आँखों के बिचकार होती है। इसे जागृत करने के लिए Third Eye Meditation का सहारा लिया जाता है। इसके बारे में हम आगे जानेगे।

third eye meditation

साइंस के नजरिये से देखे, तो हमारी आँखों के बिच पीनियल ग्रंथि होती है। जिसे जागृत करना Third Eye को जागृत करना है। पहले हमे ये बात समझनी जरूरी है। की ये तीसरी आंख असल में कोई आंख नहीं।

displayAds

ये Third Eye Symbol के तोर पर मानी जाती है। एक बात ध्यान रखने वाली है की इसे जागृत करना इतना आसान भी नहीं।

videoLinkYoutube

हमारे संत कहते है। की इस आंख को खोलने के बाद आपमें बहुत सी अद्भुत शक्तिया जागृत हो जाती है। जिसका अनुमान लगाना मुश्किल है। इसे हम छठा चक्र भी कहते है। इसका रंग नीला होता है। इसे जागृत करने के लिए बहुत सी बिधिया है। 

आज हम एक आसान बिधि के बारे में बात करेंगे। जिसके माध्यम से आप Opening Your Third Eye.           

क्या है Third Eye Meditation

चलिए जानते है How to Open Your Third Eye. इस आंख को खोलने का सबसे बेहतरीन तरीका ध्यान है। जिसे आप Third Eye Meditation भी कह सकते है। इसकी मद्द्त से Pineal Gland Activation होने में सहायता मिलती है।

1. सबसे पहले आपको अपने घर में एक शांत स्थान का चयन करना होगा।

2. उसके बाद आपको एक निश्चित समय का चयन करना है। जिस समय आप हर रोज उस समय ध्यान कर सके।

3. ध्यान करने से पूर्व आपको कुछ समय योग का अभ्यास करना चाहिए। जिससे आपका मन जल्दी शांत हो जायेगा। कपालभाति और अलोम विलोम सबसे बेहतर है।

4. जब आपका मन शांत हो जाये। तब अपनी आंखे बंद कर ले। ओर अपना पूरा ध्यान अपनी आँखों के मध्य में ले जाये।

third eye

5. ऐसा करने में आपको कोई जबरदस्ती नहीं करनी अपितु बड़े आराम से करना है।

6. ऐसा करने से आपको कई प्रकार के रंग दिखेंगे। इससे डरने का नहीं। पूरा ध्यान आँखों के बिच रखना है।

7. ऐसा अपने कम से कम २१ दिन तक, १५ मिनट के लिए तो करना है। 

8. उसके बाद जाकर आपको कुछ विशाल ऊर्जा का आभास होगा।

displayAds

नोट : ऐसा करते समय जब आपकी दोनों आँखों के बिच दबाब ज्यादा पड़ने लगे। तो उस समय आंखे खोल ले। ये कोई मजाक का विषय नहीं। इसे किसी गुरु की देख रेख में करना चाहिए।                     


SHARE:

Leave A Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Astrology facts - नवग्रहों की शांति के लिए क्या करना चाहिए।

Today Message "कर भला तो हो भला"